​पश्चिमी विक्षोभ की आवाजाही और पुरवाई हवा ने रोकी गर्मी

Indian News

जयपुर। Indian News अप्रैल माह के दस दिन बीतने के बाद भी प्रदेश में गर्मी तीखे तेवर नहीं दिखा पा रही है। हालांकि दिन के तापमान में लगातार बढ़ोतरी हो रही है लेकिन उत्तरी राज्यों में सक्रिय हो रहे पश्चिमी विक्षोभ के असर से फिलहाल पश्चिम से आने वाली गर्म हवाएं थमी हुई हैं। ऐसे में रात के तापमान में उतार चढ़ाव रहने और पुरवाई हवा के चलते सुबह शाम में मौसम में हल्की ठंडक महसूस हो रही है।
मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार अगले 48 घंटे में हिमालय तराई क्षेत्र में फिर से कम उंचाई पर एक पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने की संभावना है। जिसके असर से पंजाब,हरियाणा,दिल्ली और उत्तर प्रदेश के पश्चिमी इलाकों में हल्की बारिश होने के आसार हैं। ऐसे में अगले एक दो दिन लगातार उत्तर पूर्वी हवाएं चलने पर प्रदेश के उत्तर पूर्वी मैदानी इलाकों में गर्मी के तेवर नर्म रहने की आशंका है। हालांकि प्रदेश के पश्चिमी मैदानी भागों में दिन व के तापमान में बढ़ोतरी होने पर मौसम में गर्माहट बढ़ेगी।
बीते 24 घंटे में बाड़मेर में सर्वाधिक 41.4 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान रेकॉर्ड हुआ। जबकि राजधानी जयपुर,कोटा समेत कई इलाकों में दिन के तापमान में दो तीन डिग्री सेल्सियस तक बढ़ोतरी दर्ज हुई। दिन में आसमान साफ रहने पर धूप की तपन शहरवासियों को अब महसूस होने लगी है। लेकिन सूर्यास्त के बाद पुरवाई हवा के असर से गर्मी के तेवर फिलहाल नर्म रहे हैं। जयपुर में शनिवार सुबह आसमान साफ रहा और सुबह करीब सात किलोमीटर प्रतिघंटे की गति से पूरब दिशा से आ रही ठंडी हवा के असर से धूप की तपिश का असर थोड़ा कम रहा है। सुबह छह बजे शहर का अधिकतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रेकॉर्ड हुआ है।
स्थानीय मौसम केंद्र के पूर्वानुमान के अनुसार शहर में अगले 24 घंटे में दिन का तापमान 38 डिग्री सेल्सियस के आस पास रहने और दिन में मौसम शुष्क रहने की संभावना है।

बीती रात प्रदेश का न्यूनतम तापमान
चित्तौड़— 19.4
डबोक— 20
श्रीगंगानगर— 20.9
सीकर— 21.5
कोटा— 21.6
बूंदी— 21.8
बीकानेर— 22.2
अजमेर— 22.4
चूरू— 23
जैसलमेर— 23.4
जोधपुर— 24.9
फलोदी— 25
जयपुर— 25.1
बाड़मेर— 25.4

— तापमान डिग्री सेल्सियस में

1 thought on “​पश्चिमी विक्षोभ की आवाजाही और पुरवाई हवा ने रोकी गर्मी”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *